Rewari News: हरियाणा रोडवेज रेवाड़ी डिपो में निरीक्षक व उपनिरीक्षक की कमी के चलते हर रोज हो रहा इतने पैसो का नुक्सान

रेवाड़ी :- काफी समय से रेवाड़ी रोडवेज डिपो में निरीक्षक और उप निरीक्षक की कमी चल रही है। ऐसे में यात्री बस में बिना टिकट के ही यात्रा कर रहे हैं। जिस कारण सरकार को हर महीने राजस्व में नुकसान हो रहा है। रोडवेज अधिकारियों का कहना है कि पिछले 2 सालों से निरीक्षक और उप निरीक्षक की भर्ती नहीं की गई है। जितने भी पुराने निरीक्षक और उप निरीक्षक मौजूद है उनमें से हर महीने कुछ की सेवानिवृत्ति हो रहे हैं। जिस वजह से डिपो में निरीक्षक व उप निरीक्षक की और भी ज्यादा कमी हो रही है। फिलहाल डिपो में केवल 10 निरीक्षक व उप निरीक्षक ही कार्यरत है।

See also  बाढ़ के कारण इतने लाख रुपय का हर रोज हो रहा कुरुक्षेत्र डिपो को नुकसा

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

रेवाड़ी डिपो में काफी समय से चल रही है निरीक्षक व उप निरीक्षक की कमी

आप सबको बता दे की रेवाड़ी डिपो में केवल 10 निरीक्षक व उप निरीक्षक कार्यरत हैं जिनमें से कुछ निरीक्षक अन्य जगहों पर सेवा दे रहे हैं। निरीक्षक व उप निरीक्षक की कमी होने के कारण यात्रियों को फायदा हो रहा है। बहुत से यात्री बिना टिकट के ही सफर कर रहे हैं। क्योंकि कोई भी यात्रियों की जांच नहीं कर रहा है। फिलहाल यहां निरीक्षक और उप निरीक्षक के 50 पद खाली पड़े हैं।

See also  Haryana Roadways: हरियाणा रोडवेज ने छात्रों के लिए चलाई, इन रूटो पर स्पेशल बस

कमाई में भी हो रही है कटौती

रेवाड़ी डिपो में मौजूद निरीक्षक और उप निरीक्षक में से दो निरीक्षक को फ्लाइंग में और चार निरीक्षकों को बस बेड़ेमें लगाया गया है। इसके साथ ही निरीक्षक और भी अन्य कार्य संभाल रहे हैं। निरीक्षक व उप निरीक्षक की कमी के कारण कमाई में भी काफी फर्क पड़ रहा है।  2 साल पहले की बात करें तो महीने में ₹200000 तक की कमाई की जाती थी लेकिन अभी₹100000 तक कमाई होना भी मुश्किल है। कर्मचारियों की कमी को लेकर मुख्यालय को समय-समय पर अवगत कराया जाता है। लेकिन अभी तक यह कमी दूर नहीं की गई है। उम्मीद है कि जल्द ही बेड़ेमें नए निरीक्षक व उप निरीक्षकों को भर्ती किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker