Palwal: रोडवेज से टकराकर हुई एक कावड़िए की मौत, गुसाए लोग जाने पूरी घटना

पलवल: शहर के राष्ट्रीय राजमार्ग पर मुंडकटी थाने के पास उत्तर प्रदेश रोडवेज बस की चपेट में आने से एक कावड़िया की मौत हो गई. वहीं घटना को अंजाम देने के बाद चालक बस लेकर मौके से फरार हो गया. मृतक के साथ आए व्यक्ति ने तुरंत पुलिस को सूचना दी, मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और साथ ही शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है. बताया जा रहा है कि पलवल में कावड़िया की यह दूसरी मौत है.

FotoJet (32)-compressed

प्राप्त जानकारी के अनुसार आगरा के अनुराग नगर निवासी चार दोस्त अतुल रितिक सचिन और विनय 5 जुलाई को कावड़ लेने के लिए हरिद्वार पहुंचे थे और 6 जुलाई को कावड़ लेकर अपनी यात्रा शुरू कर पलवल पार कर गए थे। इसके बाद दो साथी रितिक रावत और सचिन कावड़ को लेकर आगरा की ओर चले गए। जबकि अतुल गुप्ता और विनय ने विश्राम शिविर में कावड़ियों को कुछ देर आराम कराया।

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now
See also  Electronic Bus : हरियाणा में इंतजार हुआ ख़तम , अब इन जिलों में रोड पर जल्द दिखेगी इलेक्ट्रॉनिक बसें, ये होंगे रूट

12 जुलाई की रात करीब 11.30 बजे वह चलने भी लगा. रात करीब साढ़े 12 बजे जब वह मुंडकटी थाने के पास पहुंचा तो अचानक पीछे से उत्तर प्रदेश की तेज रफ्तार रोडवेज बस ने विनय को टक्कर मार दी। टक्कर से विनय गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसकी कुछ ही देर में मौत हो गई, जबकि अतुल गुप्ता हादसे में बाल-बाल बच गए। टक्कर मारने के बाद आरोपी चालक बस समेत मौके से भाग गया।

See also  बहादुरगढ़ तक चली हरियाणा रोडवेज बसें बॉर्डर पर ही उतारा जा रहा है स्वारियो को

शिकायतकर्ता अतुल गुप्ता के मुताबिक इसके बाद वह भागकर घटनास्थल के पास स्थित मुंडकटी पुलिस चौकी पहुंचे और पुलिस को सूचना दी. पुलिस मौके पर पहुंची और विनय को एंबुलेंस से जिला नागरिक अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अपने दोस्त और सच्चे साथी विनय को खोने के डर से घबराए अतुल गुप्ता ने बताया कि जब वह मरकट थाने पहुंचे तो उस वक्त उन्हें नेशनल हाईवे पर कोई पुलिसकर्मी नहीं दिखा और जब वह थाने पहुंचे तो सभी लोग सोते हुए मिले.

डीएसपी ट्रैफिक संदीप मोर ने बताया कि टोल प्लाजा के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में 12 से 12:30 बजे तक यूपी रोडवेज की बसें आती-जाती हैं, उनके नंबर जुटा लिए गए हैं और सभी ड्राइवरों को बुलाकर पूछताछ की जाएगी। सभी का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल की मोर्चरी में कर परिजनों को सौंप दिया गया.

Sunny Singh

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम Sunny Singh है. मैं इस वेबसाइट की एडमिन टीम से हूँ. और बतौर कंटेंट राइटर भी कार्य करता हूँ. मैंने इससे पहले खबरी एक्सप्रेस में अपनी सेवाएं बतौर कंटेंट राइटर दी है. मेरा मुख्य उद्देशय आप सभी को हरियाणा रोडवेज बसों से जुडी जानकारी प्रदान करना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker