Jaipur To Delhi Bus: Jaipur To Delhi चलने वाली बसों पर बड़ी खबर, रोडवेज बसों पर सरकार ने लिया ये फैसला

Jaipur To Delhi Bus:- राजस्थान वासियों के लिए यह दो अपडेट बड़े काम की सामने आई है. Rajasthan Roadway की बसों से दिल्ली जाने वालो के लिए एक बड़ी अपडेट आई है. दिल्ली जाने वालों के लिए यह अपडेट जरूरी है Rajasthan Roadway के प्रबंध निदेशक नथमल डिटेल ने G-20 समिट के दौरान Gurugram Police आयुक्तालय द्वारा परिवहन विभाग राजस्थान को जारी दिशा निर्देशों के चलते एनएच 48 समेत दिल्ली में प्रवेश करने वाली रोडवेज बसों के रूट डायवर्ट करने के निर्देश दिए गए हैं.

Jaipur To Delhi Bus

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

निगम के कार्यकारी निदेशक (यातायात) Sanjeev Kumar Pandey ने ये बताया है कि एनएच 48 एवं पुरानी दिल्ली रोड से होते हुए दिल्ली में प्रवेश करने वाली सभी बसों को प्रवेश पर निषेध के चलते आज सितंबर रात्रि 12 बजे से 10 सितंबर को रात्रि 12 बजे तक जयपुर दिल्ली एनएच 48 के चलने वाली बसों को गुरुग्राम तक चलेगी. भरतपुर से आने वाली बसें वल्लभगढ़ आश्रम चौक तक हरियाणा से आने वाली बसें पीरागढ़ी चौक तक संचालित की गई है. इसी प्रकार दिल्ली से गुजरात आने वाली अंतरराष्ट्रीय बसे भी आवश्यकतानुसार रूट परिवर्तन करने के निर्देश दिए गए हैं.

See also  Roadways news: यात्रा करने से पहले देखे हरियाणा रोडवेज ने बंद किये ये रूट , बसों के लिए भटक रहे यात्री

120 दिन की जगह अब 7 दिन के अंदर

राज्य में उद्योगों की स्थापना एवं संचालन के लिए राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल द्वारा ईज ऑफ़ डूइंग बिजनेस की कल्पना को साकार करने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा हैं. उद्योगों में सस्टनेबले प्रैक्टिसेज को प्रोत्साहित किया जा सके. साथ ही साथ राज्य में उद्यमियों के साथ एक बेहतर निवेश भी आकर्षित हो सके. राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अध्यक्ष शिखर अग्रवाल ने यह भी कहा है कि उद्योगों के सुलभ संचालन के लिए आरएसपीसीबी ने ग्रीन चैनल प्रणाली की शुरुआत की है. जिसके माध्यम से उद्योगों के संचालन के लिए सम्मति नवीनीकरण की प्रक्रिया को सरल बनाने का निर्णय लिया गया है.

See also  Rohtak News: रोहतक में महाप्रबंधक से नाराज दिखे कर्मचारी, उनके लिए बोली इतनी बड़ी बात

उन्होंने यह भी बताया है कि ग्रीन चैनल प्रणाली एक अनुपालन आधारित फास्ट ट्रैक क्लीयरेंस तंत्र होगी. जिसके माध्यम से पूर्व में लगने वाले 120 दिन की जगह अब 7 दिन के अंदर उद्योगों के संचालन में सम्मति का नवीनीकरण किया जा रहा है. जिससे समय की बचत के साथ-साथ आसान प्रक्रिया होने से उद्यमियों को उद्यम संचालन करने से पूर्व की तुलना में बेहद आसान होगा.

ग्रीन चैनल प्रणाली में नहीं लिया जाएगा

ग्रीन चैनल के अंतर्गत अब आरएसपीसीबी के क्षेत्रीय अधिकारी विशेष रूप से साइट निरीक्षण के आधार पर प्रत्येक इकाई को अनुपालन एवं गैर अनुपालन श्रेणी में वर्गीकृत करेगा. ऐसी इकाइयों को प्रदूषण नियंत्रण के लिए मंडल द्वारा जारी नियमों का पालन नहीं कर रहा है. उन्हें ग्रीन चैनल प्रणाली में नहीं लिया जाएगा यदि किसी इकाई या आवेदक को गैर अनुपालन के रूप में चिह्नित किया गया है तो उसका कारण भी दर्ज किया जाएगा. ग्रीन चैनल सिस्टम के लिए क्षेत्रीय अधिकारियों द्वारा अनुशंसित इकाई वही होगी जहां मंडल द्वारा जारी नियमों का किसी प्रकार का उल्लंघन ना हो. इस संबंध में मंडल द्वारा विस्तृत गाइडलाइंस के साथ प्रभावित आदेश जारी कर दिए गए हैं.

See also  Haryana Roadways : हरियाणा के नारनौल डिपो में बसों का टोटा, डिपो में नहीं होंगी और बस शामिल

15 सितंबर से शुरू होगा ग्रीन चैनल

उद्योगों के संचालन सम्मति के नवीनीकरण के लिए ग्रीन चैनल प्रणाली 15 दिसंबर से प्रभावित रूप संचालित किया जाएगा. जिसके अंतर्गत ग्रीन चैनल इकाई के संचालन सम्मति के नवीनीकरण की मंजूरी संबंधित समूह प्रभारी एवं क्षेत्रीय अधिकारियों द्वारा अध्यक्ष या सदस्य सचिव से किसी भी अनुमोदन के बिना 7 दिनों के भीतर दी जाएगी.

Author Sunil Rajput

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम सुनील कुमार है. मैं इस वेबसाइट की एडमिन टीम से हूँ. और बतौर कंटेंट राइटर भी कार्य करता हूँ. मैंने इससे पहले खबरी एक्सप्रेस और पंजाब केसरी में अपनी सेवाएं बतौर कंटेंट राइटर दी है. मेरा मुख्य उद्देशय आप सभी को हरियाणा रोडवेज बसों से जुडी जानकारी प्रदान करना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker